Spread the love

GNA नेशनल न्यूज़ एजेंसी

ब्यूरो रिपोर्ट दिलनवाज़ दिलशाद मैंनपुरी

* एक सप्ताह में 5 लोगों की मौत
*जनपद के बाहर करा रहे आधा सैकड़ा लोग इलाज। *ग्रामीणों ने की सीएमओ से गांव में कैंप लगाने की मांग। बिछवां/मैनपुरी क्षेत्र के गांव करीमगंज में डेंगू का कहर थमने के बाद, पड़ोस के गांव अंजनी में डेंगू के मच्छरों ने आतंक फैला दिया है।गांव में वर्तमान में 50 लोग बाहर इलाज करा रहे हैं। जबकि 150 लोग गांव में ही इधर-उधर झोलाछाप डॉक्टरों से अपना इलाज कराने को मजबूर हैं। वहीं एक सप्ताह के अंतराल में गांव में 5 मौतें हो गई हैं। जिससे गांव के लोगों को काफी डर लगने लगा है। गांव अंजनी में ग्राम प्रधान ने साफ सफाई कराई, साथ ही दवा का छिड़काव कराया ।उसके बाद भी गांव में बीमारी ने अपने पैर पसार लिए हैं। गांव अंजनी निवासी कैलाश उम्र 65 वर्ष पुत्र ब्रजनंदन सिंह, सगुना देवी उम्र 60 वर्ष पत्नी अजब सिंह, राममूर्ति उम्र 65 वर्ष पत्नी श्याम सिंह अखिलेश देवी उम्र 55 वर्ष पत्नी पुष्पेंद्र, हर्ष यादव पुत्र उपेंद्र सिंह इन सभी की डेंगू की चपेट में आने से मौत हुई है।सभी की मौत विभिन्न अस्पतालों में हुई है। सभी की रिपोर्ट डेंगू पॉजिटिव बताई गई है। जबकि 20 से 25 लोगों की हालत काफी खराब है। जिन्हें आगरा, कासगंज, एटा, महंता जयपुर के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।साथ ही गांव में सैकड़ों लोग बीमार पड़े हैं। जो मजबूरन झोलाछाप डॉक्टरों से अपना इलाज करा रहे हैं।साथ ही जनपद मैनपुरी में उन्हें डेंगू की रिपोर्ट नहीं मिल पा रही है। वे दूसरे जनपदों में जाकर अपनी जांच करा रहे हैं, ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से गांव में सीएमओ के साथ टीम भेजकर लोगों की जांच कराकर उन्हें समुचित उपचार दिलाए जाने व कैंप लगाए जाने की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *