फाइल फोटो
Spread the love

BY:GNA 

पटनाः बिहार में चुनाव होने वाले हैं. आयोग ने अभी तारीखों को ऐलान नहीं किया है, लेकिन देशभर के अन्य प्रदेशों से राजनीति का अलग ही रंग-रुख रखने वाले इस चुनावी मैदान से खबरें भी दिलचस्प ही आती हैं. दलों में टूट-फूट, जातिगत समीकरण, निकालने-स्वीकारने का दौर जारी है. इस सबके बीच मीडिया की नजरें जाकर गड़ गई हैं जीतन राम माझी पर जो कि बिहार के पूर्व सीएम होने का तमगा भी रखते हैं.

NDA का हिस्सा हो सकते हैं माझी
ताजा खबर है कि पूर्व सीएम जीतन राम माझी और उनकी पार्टी हिन्दुस्तान आवामी मोर्चा (हम) ने महागठबंधन का साथ छोड़ दिया है. चुनाव से ठीक पहले यह कट्टी महागठबंधन के लिए करारा झटका कही जा रही है. बात इतनी सी नहीं है सूत्र यह भी कह रहे हैं कि मांझी अपने दल-बल समेत NDA की ओर बढ़ रहे हैं. वह जल्द ही NDA का हिस्सा होंगें.

समन्वय का दिया था अल्टीमेटम
माझी की पार्टी ने इसके खुले तौर पर संकेत तो पहले ही दे दिए थे. हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा पार्टी (हम) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने महागठबंधन में समन्वय समिति बनाने की मांग का अल्टीमेटम दिया था. यह अल्टीमेटम गुरुवार को पूरा हुआ. मांझी की ओर से दिए गए अल्टीमेटम को लेकर महागठबंधन ने अब तक कोई फैसला नहीं लिया गया, जिसके बाद उन्होंने गठबंधन से अलग होने का फैसला लिया है.

निकलने-निकालने का दौर जारी
चुनाव से पहले बिहार की राजनीति में निकलने-निकालने दौर जारी है. अभी बिहार सरकार में उद्योग मंत्री रहे श्याम रजक को बाहर का रास्ता दिखाया ही गया है. दूसरी तरफ, जेडीयू ने भी आरजेडी के तीन विधायक प्रेमा चौधरी, महेश्वर यादव और डॉ.अशोक कुमार को अपनी पार्टी में शामिल करा लिया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *