Headlines
scroll

    Please Contact Us To Join GNA News Agency, For : Reporter, State head, Bureau chef.Toll Free:18004192745,+91 7575000130/+91 2656590130

Home / National / *प्राथमिक विद्यालय चकजाफ़र में मनाया गया अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस*

*प्राथमिक विद्यालय चकजाफ़र में मनाया गया अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस*

*प्राथमिक विद्यालय चकजाफ़र में मनाया गया अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस*

*प्राथमिक विद्यालय चकजाफ़र में मनाया गया अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस*
चित्रकूट- पहाड़ी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चकजाफ़र गाँव के प्राथमिक विद्यालय में अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया । नीति आयोग के स्वास्थ सुरक्षा ब्लाक समन्वयक अनवर जी कहा कि स्वच्छ्ता से ही सभी समस्याओं का समाधान होगा क्योंकि स्वच्छ वातावरण से अच्छा स्वास्थ और स्वस्थ शरीर मे स्वस्थ मष्तिष्क का विकास होता है इसलिए सभी लोग स्वच्छ्ता का विशेष ध्यान रखें एवम अपने स्वास्थ्य के साथ साथ स्वयं एवम बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दें।

वही बड़कू राम ने कहा कि शिक्षा मनुष्य के जीवन को आकार देने के साथ साथ उसकी उसकी सांस्कृतिक पहचान को भी बनाता है उन्होंने रामचरितमानस के कई सन्दर्भों का उदाहरण से स्प्ष्ट किया । मुख्य वक्ता के रूप में श्री मति शिल्पा चौहान प्रधानाध्यपिक ने कहा कि निरक्षरता अभिशाप है शिक्षा प्रकाश है निरक्षरता को दृष्टिगत रखते हुए नवंबर 1965 को यह निश्चित किया गया कि व्यक्ति और समुदाय को साक्षरता के महत्व को ध्यान दिलाने की दृष्टि से इसे विश्व भर में मनाने का निर्णय लिया गया । इस दिवस मनाने का लक्ष्य सभी लोगों को शिक्षित करना है बच्चे , वयस्क , बुजुर्ग , महिलाएं सभी को साक्षर बनाना ही लक्ष्य है क्योंकि शिक्षा हमारे कर्तब्यों एवम उत्तर दायित्यों के प्रति जागरूक करती है भारत मे भी साक्षर भारत मिशन के माध्यम से प्रौढ़ शिक्षा के अंतर्गत बुनियादी शिक्षा ,एवम सतत शिक्षा का कार्य किया जा रहा है । कार्यक्रम में सहायक अध्यापक मनोज मिश्रा साक्षर समाज के विषय पर अपने विचार रखे और साथ ही कहा कि प्रत्येक वर्ष इस दिन खास विषय वस्तु और कार्यक्रम एवम लक्ष्य के साथ इसे मनाया जाता है । कार्यक्रम में प्रेरक विजयपाल , हीरामनि ,एवम विद्यालय परिवार के अतिरिक्त गुड़िया देवी , आरती बाई ,रामस्वरूप ,रामऔतार , राधेश्याम सहित अनेक गणमान्य नागरिक तथा सभी छात्र – छात्राएं उपस्थित रहे ।

*रिपोर्ट- सुरेन्द्र सिंह कछवाह*
*मो0 -7905851055*
चित्रकूट- पहाड़ी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चकजाफ़र गाँव के प्राथमिक विद्यालय में अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया । नीति आयोग के स्वास्थ सुरक्षा ब्लाक समन्वयक अनवर जी कहा कि स्वच्छ्ता से ही सभी समस्याओं का समाधान होगा क्योंकि स्वच्छ वातावरण से अच्छा स्वास्थ और स्वस्थ शरीर मे स्वस्थ मष्तिष्क का विकास होता है इसलिए सभी लोग स्वच्छ्ता का विशेष ध्यान रखें एवम अपने स्वास्थ्य के साथ साथ स्वयं एवम बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान दें ।वही बड़कू राम ने कहा कि शिक्षा मनुष्य के जीवन को आकार देने के साथ साथ उसकी उसकी सांस्कृतिक पहचान को भी बनाता है उन्होंने रामचरितमानस के कई सन्दर्भों का उदाहरण से स्प्ष्ट किया । मुख्य वक्ता के रूप में श्री मति शिल्पा चौहान प्रधानाध्यपिक ने कहा कि निरक्षरता अभिशाप है शिक्षा प्रकाश है निरक्षरता को दृष्टिगत रखते हुए नवंबर 1965 को यह निश्चित किया गया कि व्यक्ति और समुदाय को साक्षरता के महत्व को ध्यान दिलाने की दृष्टि से इसे विश्व भर में मनाने का निर्णय लिया गया । इस दिवस मनाने का लक्ष्य सभी लोगों को शिक्षित करना है बच्चे , वयस्क , बुजुर्ग , महिलाएं सभी को साक्षर बनाना ही लक्ष्य है क्योंकि शिक्षा हमारे कर्तब्यों एवम उत्तर दायित्यों के प्रति जागरूक करती है भारत मे भी साक्षर भारत मिशन के माध्यम से प्रौढ़ शिक्षा के अंतर्गत बुनियादी शिक्षा ,एवम सतत शिक्षा का कार्य किया जा रहा है । कार्यक्रम में सहायक अध्यापक मनोज मिश्रा साक्षर समाज के विषय पर अपने विचार रखे और साथ ही कहा कि प्रत्येक वर्ष इस दिन खास विषय वस्तु और कार्यक्रम एवम लक्ष्य के साथ इसे मनाया जाता है । कार्यक्रम में प्रेरक विजयपाल , हीरामनि ,एवम विद्यालय परिवार के अतिरिक्त गुड़िया देवी , आरती बाई ,रामस्वरूप ,रामऔतार , राधेश्याम सहित अनेक गणमान्य नागरिक तथा सभी छात्र – छात्राएं उपस्थित रहे ।
*रिपोर्ट- सुरेन्द्र सिंह कछवाह*
*मो0 -7905851055*

apteka mujchine for man ukonkemerovo woditely driver.

error: Content is protected !!