Headlines
scroll

    Please Contact Us To Join GNA News Agency, For : Reporter, State head, Bureau chef.Toll Free:18004192745,+91 7575000130/+91 2656590130

Home / State / Chandigarh / विपक्ष की आवाज को दबाकर ,लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश कर रही है पंजाब सरकार……अमन अरोड़ा।

विपक्ष की आवाज को दबाकर ,लोकतंत्र का गला घोंटने की कोशिश कर रही है पंजाब सरकार……अमन अरोड़ा।

BY:GNA

(जीएनए ब्यूरो रिपोर्ट देवकी नंदन)
चंडीगढ़ 22 जून, किसी भी देश की सरकार में जनहित के लिए काम करवाने के लिए ओर जनता की आवाज को उठाने के लिए विपक्ष की अहम भूमिका रहती है।सरकार जहां जहां गलती करती है उस गलती में सुधार करने के लिए विपक्ष सरकार की मदद करता है।लेकिन पंजाब में तो पंजाब सरकार को शायद विपक्ष हजम होता हूआ नही नजर आ रहा उसका मुख्य कारण खुद पंजाब सरकार है।अभी कुछ दिनों से पंजाब सरकार के मंत्री राणा गुरजीत सिंह सोढ़ी रेता माफ़िया को लेकर काफी ज्यादा सुर्खियां बटोरने में लगे हुए है। उसी बीच आम आदमी पार्टी के सुनाम से विधायक व पार्टी के को-कन्वीनर अमन अरोड़ा ने बताया कि पंजाब सरकार विपक्ष की आवाज को दबाने की कोसिस कर रही है। विपक्ष के दो विधायक जो जनता की आवाज को उठाना चाहते है उन विधायकों को सुखपाल खेरा ओर सिमरजीत सिंह बैंस को सदन से बाहर कर दिया। ओर जब से पंजाब विधानसभा के स्पीकर राणा के.पी सिंह के दामाद डॉ:ध्रुव कंवर सिंह का रेता माफिया में शामिल होने के चलते उन पर पुलिस द्वारा मुकदमा दर्ज किया हुआ है। जैसे ही आम आदमी पार्टी के विधायक सुखपाल खेरा ओर सिमरजीत सिंह बैंस को पता लगा उन्होंने तुरंत सोशल मीडिया पर अपनी वीडियो वॉयरल की। उस वीडियो के बाद जैसे ही पंजाब सरकार और विधानसभा के स्पीकर को पता चला। तो उन्होंने विपक्ष की आवाज को दबाने की कोशिश की। स्पीकर साहब को लगा कि कहीं विपक्ष आज मेरे ऊपर ना दवाब बनाए इस लिए बिना किसी नोटिस के विपक्ष को सदन से एक दिन के लिए स्थगित कर दिया गया।और विपक्ष के विधायकों को मार्शल द्वारा बाहर निकाल दिया गया।अमन अरोड़ा ने बताया कि और तीन विधायक जो अमृतधारी सिख है उनकी दस्तार उतार के फेंकी गई।उनकी बेअदबी की गई और 3 लेडीज़ विधायकों के साथ भी धक्केमुकी की गई। इस घटना की पंजाब के भूतपूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल ओर पूर्व मुख्यमंत्री सरदार प्रकाश सिंह बादल ने भी निंदा की। सरदार बादल बोले कि लोकतंत्र के लिए आज काला दिन है।सुखबीर बादल ने आज की घटना के लिए स्पीकर को जिमेवार बताया । बोलेे कि स्पीकर पर मुकदमा दर्ज होना
चाहिए।
आज सदन में जो भी हुआ बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना थी।पंजाब की जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि को सदन में बोलने नही दिया जाता।जनता की आवाज को सरकार दबाना चाहती है। पंजाब जा इस से बड़ा दुर्भाग्य क्या होगा।जिस तरीके से कल सदन में जो हंगामा हुआ उस से यह नही लगता कि सरकार जनता के लिए कुछ करेगी।बल्कि सरकार और स्पीकर दोनों मिलकर खुद को बचाते हुए नजर आए।

apteka mujchine for man ukonkemerovo woditely driver.

error: Content is protected !!