Headlines
scroll

    Please Contact Us To Join GNA News Agency, For : Reporter, State head, Bureau chef.Toll Free:18004192745,+91 7575000130/+91 2656590130

Home / State / Uttar Pradesh / जालौन-उरई:जिला जेल में सजायाफ्ता कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

जालौन-उरई:जिला जेल में सजायाफ्ता कैदी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

BY:GNA
रिपोट:विक्की प्रजापति ब्यूरो GNA न्यूज़ एजेंसी जालौन
जिला कारागार में सोमवार को एक सजायाफ्ता कैदी की मृत्यु हो गई गई। बताया जाता है कि बीमार होने के कारण उसे जेल के अस्पताल वार्ड में रखा गया था, हत्या के अपराध में सजा सुनाई जाने के बाद वर्ष 2013 से वह जिला कारागार में बंद था। मृतक कैदी के भाई का आरोप है कि उसके भाई के पेट में दर्द रहता था, जेल में उपचार के दौरान राहत नहीं मिलने के कारण उसे जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था, परंतु न तो उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और न ही मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया, प्रभावी इलाज नहीं मिल पाने की वजह से उसके भाई की मृत्यु हो गई।
ग्राम सिकरी राजा निवासी चरनपाल सिंह उर्फ बबलू (45) पुत्र समरजीत सिंह के ऊपर हत्या का इल्जाम था। वर्ष 2013 में उसे सजा सुनाई गई, तब से वह जेल में बंद था। पिछले दिनों उसे पेट में तकलीफ हो गई, जिसका जेल सके अस्पताल में ही इलाज चल रहा था, परंतु उसकी हालत में सुधार नहीं हुआ, सोमवार सुबह चरनपाल सिंह ने दम तोड़ दिया। इसके बाद जेल प्रशासन के हाथ पांव फूल गये। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतक के भाई शैलेन्द्र सिंहः का कहना है कि सही इलाज नहीं मिलने के कारण उसकी मौत हुई है, पेट में तकलीफ बढ़ जाने के कारण जेल अस्पताल के डाक्टरों ने उसे मेडिकल कालेज के लिए रेफर कर दिया था, परंतु गारद उपलब्ध न हो पाने के कारण इलाज के लिए मेडिकल कालेज में शिफ्ट नहीं किया गया।
तीन चिकित्सकों ने किया पोस्टमार्टम

मृतक चरन पाल का पोस्टमार्टम तीन चिकित्सक डा. श्रीकांत तिवारी, डा. बंसत लाल और डा. विनय अग्रवाल के पैनल ने किया। साथ ही पोस्टमार्टम के दौरान वीडियोग्राफी कराई गई। इसके साथ ही बिसरा भी सुरक्षित कर लिया गया है।

apteka mujchine for man ukonkemerovo woditely driver.

error: Content is protected !!